Trending

₹300 का नकली गहना 6 करोड रुपए में बेचा अमेरिका की महिला के साथ हो गया फ्रॉड, जयपुर के बाप बेटे ने मिलकर किया यह कांड।

राजस्थान के जयपुर में एक ज्वेलर्स बाप बेटे ने अमेरिकी महिला के साथ बहुत बड़ा फ्रॉड किया है इसमें बताया जा रहा है कि अमेरिकी महिला को ₹300 का नकली आर्टिफिशियल हार उसे 6 करोड रुपए में बेच दिया है।

पुलिस के हिसाब से मिली खबरों के अनुसार यह महिला अमेरिका की नागरिक है और इसका नाम चेरिश है यह करीब 2 साल पहले जयपुर शहर के गोपाल जी रास्ता अस्तित्व दुकान से एक ज्वेलरी खरीदी थी जिनकी कीमत इनको 6 करोड रुपए हुए थे खरीदारी करते वक्त दुकानदार ने इसे हॉलमार्क का सर्टिफिकेट भी दिया था जिससे हम किसी भी आभूषण की शुद्धता पहचानते हैं।

हर खरीदने के बाद सीरीज अमेरिका वापस लौट गई थी और उन्होंने एक कॉन्टेस्ट में भाग लिया जहां पर उसने अपने हर को प्रदर्शित किया और इसी में खुलासा हुआ कि यह हर नकली है जैसे ही उसे यह पता चला कि यह हर नकली है और तुरंत इंडिया आई और उसे दुकान के मालिक से जाकर इसकी शिकायत की फिर आभूषणों की शुद्धता जचने के लिए इस हार को कई और दुकानों पर भेजा गया जहां से यह कंफर्म हुआ कि यह हर नकली ही है इसके बाद अमेरिका के दूतावास को इस घटना की जानकारी दी गई।

पिता पुत्र के खिलाफ की गई केस दर्ज –

इस मामले की गंभीरता के देखते हुए पुलिस ने 18 में को ज्वेलर्स राजेंद्र सैनी और उनके बेटे गौरव सैनी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की कई धाराओं को ध्यान में रखते हुए उनके ऊपर एफआईआर दर्ज किया पुलिस यह भी खुलासा किया है कि जब आभूषणों को जांच के लिए भेजा गया था तो उसमें जो हीरे लगाए गए थे वह चंद्रमणि थे और अब हुस्न की शुद्धता लगभग 14 कैरेट होनी चाहिए थी लेकिन जांच करवाने के बाद उसमें सिर्फ दो कैरेट ही निकली।

बाप बेटे के खिलाफ कई और शिकायतें हैं दर्ज ।

हालांकि अभी मुख्य आरोपी ज्वेलर्स फरार है लेकिन हॉलमार्क का सर्टिफिकेट महिला को देने वाला नंदकिशोर को गिरफ्तार कर लिया गया है अमेरिका के इस महिला के शिकायत के बाद पुलिस को उन दोनों ज्वेलर्स के खिलाफ कई और शिकायतें भी मिले जिन में दोनों के खिलाफ करोड रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया गया है जिनके ऊपर पुलिस अभी भी जांच कर रही है।

चेरिश का क्या कहना है।

जब मीडिया ने चेरीज को इसके बारे में पूछा तो पीड़िता का कहना है कि गौरव सोनी और उनके पिता ने उसके साथ चीटिंग किया है उसने मुझे 14 कैरेट के गोल्ड देने की वजह है मात्र 9 कैरेट के गोल्ड दिए साथ ही इसमें लगे हुए हीरे पूरी तरीके से मून स्टोन का दिया चेरिश के अलावे इन दोनों ज्वेलर्स के द्वारा कई और ग्राहक धोखाधड़ी से प्रभावित है उनको भी चेरिश की तरह ही नकली प्रमाण पत्र भी दिया गया लेकिन ज्वेलरी में नकली सामान दिया गया।

Pratiksha jaiswal

मेरा नाम Pratiksha Jaiswal मैं इस वेबसाइट के माध्यम से प्रतिदिन आप लोगों के लिए शिक्षा और खेल से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी शेयर करती हूं। मेरा इस क्षेत्र में 5 साल का अनुभव है, हमेशा सही जानकारी आपलोगो के पास पहुंचने का प्रयास करती हूँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button